चैन की नींद सोना है तो दुरुस्त कर लें अपना खानपान, वरना परेशानी में पड़ जाएंगे

चैन की नींद सोना है तो दुरुस्त कर लें अपना खानपान, वरना परेशानी में पड़ जाएंगे
Spread the love

फिजिकली और मेंटली हेल्दी रहना है तो रात में गहरी नींद सोना बहुत ही आवश्यक होता है। स्टडी बताती है कि हमारा खानपान भी नींद पर असर करता है। ऐसे में आप अपनी डाइट को सुधारकर भी नींद बेहतर कर सकते हैं। रात में अच्छी नींद लेना हमारे हेल्थ के लिए बहुत जरूरी है. अच्छी नींद नहीं होने पर हमारे फिजिकल और मेंटल हेल्थ पर बुरा इफेक्ट पड़ता है. 7-8 घंटे की नींद नहीं लेने के कारण कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम हो सकती है। हाल में नींद पर हुई एक स्टडी में सामने आया है कि, कुछ खाने की चीजें हमारी नींद की साइकल को खराब करते हैं।  शोधकर्ताओं ने पाया कि अच्छा खाना और बुरा खाना हमारी नींद को प्रभावित करता है. इसलिए हमेशा खानपान बेहतर रखना चाहिए।

एक शोध में सामान्य वजन के 15 स्वस्थ युवाओं को शामिल किया गया. जिन्हें एक हफ्ते तक दो अलग-अलग तरह का खाना दिया गया.इसके बाद उनकी नींद की आदतों की जांच की गई. एक डाइट में अधिक चीनी, सेचुरेटेड वसा और प्रोसेस्ड फूड रखे गए, जबकि दूसरे में हेल्दी डाइट दी गई. जिसमें वसा और चीनी बहुत कम थे। हालांकि दोनों डाइट में कैलोरी बराबर ही थी. हर बार की डाइट के बाद प्रतिभागियों की नींद का क्लिनिकल टेस्ट किया गया. सामान्य नींद के वक्त दोनों तरह के ब्रेन की एक्टिविटीज को देखा गया. इसके बाद सभी को रात में जगाए रखा गया. इसके बाद उनकी नींद का टेस्ट किया गया।

स्वस्थ और पौष्टिक आहार लेना नींद की गुणवत्ता को सुधारने में मदद कर सकता है. अपनी डाइट में उचित मात्रा में प्रोटीन, पोषक तत्व, फल, सब्जियां और पूरे अनाज शामिल करें. रात के डिनर में तेज या कैफीन वाली चीजों के सेवन से बचें, क्योंकि इससे नींद डिस्टर्ब हो सकती है। योग या एक्सरसाइज कर नींद की गुणवत्ता बेहतर बना सकते हैं. रोजाना व्यायाम करने से आपका शरीर कम थकता है और इससे नींद बेहतर होती है. योग और मेडिटेशन भी मानसिक समस्याएं दूर होती हैं और गहरी नींद पाने में मदद मिलती है।

कुछ फूड्स नींद को बेहतर बनाने में मदद करते हैं. जैसे- चेरी जूस, अखरोट और कुछ वसायुक्त मछलियां डाइट में शामिल करने से नींद की क्वालिटी सुधरती है. इसलिए इन फूड्स को अपनी डाइट में रखें।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *