क्रिकेटर आर्य सेठी से मारपीट के मामले में दून पुलिस ने बढ़ाई जांच की रफ्तार, जल्द होगी सभी आरोपियों की गिरफ्तारी

क्रिकेटर आर्य सेठी से मारपीट के मामले में दून पुलिस ने बढ़ाई जांच की रफ्तार, जल्द होगी सभी आरोपियों की  गिरफ्तारी
Spread the love

देहरादून। क्रिकेट एसोसिएशन आफ उत्तराखंड के सचिव माहिम वर्मा समेत सभी 7 मुल्जिमों की फौरन गिरफ्तारी के लिए एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने SOG गठित कर दी है। युवा क्रिकेटर आर्य सेठी और उसके पिता वीरेंद्र सेठी को जान से मारने की धमकी देने और फिरौती मांगने के मामले में पुलिस ने जांच तेज कर दी है. वहीं एसएसपी देहरादून जन्मेजय खंडूरी ने इस मामले में एसओजी गठित किए जाने की पुष्टि करते हुए कहा कि जो भी दोषी होगा उसको बख्शा नहीं जाएगा।

आपको बता दें कि क्रिकेटर आर्य सेठी के साथ हुई मारपीट और जान से मारने की धमकी देने के मामले में क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के सचिव महिम वर्मा समेत सात लोगों के खिलाफ वसंत विहार थाने में मुकदमा दर्ज है। क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के सचिव महिम वर्मा, सत्यम शर्मा, पीयूष कुमार रघुवंशी, नवनीत मिश्रा, संजय गुसाईं, मनीष झा, और पारूल के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. आरोप है कि क्रिकेटर आर्य सेठी से 10 लाख रुपए की मांग करने,रुपयों की मांग पूरी न करने पर कैरियर खत्म करने के साथ ही क्रिकेटर से मारपीट और जान से मारने की धमकी देने का ये पूरा मामला है. सीएयू के पदाधिकारियों पर लग रहे एक के बाद एक गंभीर मामलों से उत्तराखंड क्रिकेट से जुड़े लोगों में काफी आक्रोश है सीएयू के पूर्व अध्यक्ष हीरा सिंह बिष्ट का कहना है कि मामला बेहद गंभीर है सभी दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए

बता दें कि सीएयू सचिव महिम वर्मा समेत सभी सात आरोपियों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है धारा 384.323.504.506 और 120 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है. आपको बता दें कि विवाद बीते साल दिसंबर महीने का है। जब इंदिरा नगर कॉलोनी निवासी क्रिकेटर आर्य सेठी के पिता वीरेंद्र शेट्टी ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उनका बेटा आर्य सेठी उत्तराखंड के सीनियर क्रिकेट टीम का सदस्य है। और 11 दिसंबर 2021 को राजकोट में विजय हजारे ट्रॉफी में अभ्यास मैच के दौरान टीम के कोच मनीष झा ने आर्य सेठी की पिटाई कर दी।

आर्य सेठी ने इसकी शिकायत सीएयू के सचिव महिम वर्मा से की जिसके बाद महिम वर्मा ने इस संबंध में टीम के मैनेजर नवनीत मिश्रा, कोच मनीष झा और वीडियो एनालिसिस पीयूष रघुवंशी से बात की। आरोप है कि इसके बाद तीनों ने आर्य सेठी को एक कमरे में बुलाया और उसे जान से मारने की धमकी दी। वहीं जब इस संबंध में आर्य ने सीएयू सचिव से बात की तो उन्होंने कहा कि मामला सुलझाने के लिए 10 लाख रुपए देने पड़ेंगे वरना आर्य सेठी का कैरियर बर्बाद कर देंगे। बता दें कि क्रिकेट एसो के सचिव महिम वर्मा पहले भी कई विवादों में घिरे है. महंगे सेलक्टर लाने, खिलाड़ियों पर होने वाले खर्च को महंगे होटलों और यात्रा में खर्च करने, समेत कई आरोप उन पर लगते रहे हैं। लेकिन अब महिम वर्मा समेत सभी सात आरोपियों पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है

admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *